[1]
पाठकस., “कल्प वेदांग में यज्ञ की प्रासंगिकता ”, Interdis. J of Yagya Res., vol. 3, no. 1, pp. 15-22, Jun. 2020.